Friday, April 1, 2011

100वां शतक किसी दूसरे वनडे में पूरा कर लेना, अभी वर्ल्ड कप लाओ!


भारत-पाक के बीच मैच शुरू होने से पहले बातचीज चल रही थी। बात शुरू हुई तो इस बात पर जाकर खत्म हुई कि अगर आज सचिन ने शतक लगाया तो भारत हारेगा और अगर नहीं लगाया तो भारत जीतेगा। जब किसी ने अंधविश्वास बताया तो कहा गया कि टोने-टोटके कहीं चलते हों या न चलते हों, लेकिन क्रिकेट में चलते हैं। बात को पुष्ट करने के लिए सचिन के इतिहास को उजागर करते दो-तीन उदाहरण भी दे दिए गए। फिर मैच शुरू हुआ। सचिन 85 रन बनाकर आउट और भारत का स्कोर भी कुछ ज्यादा नहीं था। लेकिन सब को उम्मीद थी कि बाॅलिंग और फील्डिंग की बदौलत मैच जीत लिया जाएगा। आखिरकार मैच जीत लिया गया और टोने-टोटके मानने वालों की बात सच साबित हुई। लेकिन सचिन के फैन्स को उसका 100वां शतक पूरा न होने का मलाल रह गया। हालांकि भारत की शानदार जीत के सामने ये मलाल काफी नीचे दब गया।

अब फाइनल की बारी है। सामने लंका खड़ी है। लंका को फतेह करना टेढ़ी खीर होगी। लेकिन अब सचिन के फैन्स भी मानने लगे हैं कि 100वां शतक किसी और वनडे में पूरा हो जाएगा। अभी देश को वर्ल्ड कप दिलाना जरूरी है। जो कुछ ज्यादा आशावादी हैं वे दुआ कर रहे हैं कि 100वां शतक भी पूरा हो जाए और वर्ल्ड कप भी भारत में आ जाए। क्योंकि सबको पूरी उम्मीद है कि ये सचिन का आखिरी वर्ल्ड कप होगा। 37 साल के पायदान पर खड़े सचिन अगले वर्ल्ड कप से पहले ही संन्यास ले लेंगे। उनके फैन्स तो यही चाहते हैं कि लंका के खिलाफ सचिन 100वां शतक भी लगाएं और हम वर्ल्ड कप भी जीत जाएं। लेकिन टोने-टोटकों की बात मानें तो सचिन का शतक भारत के फेवर में नहीं जा पाता। उस दिन भारत हार जाता है। ऐसे में सचिन के कुछ फैन्स दिल पर पत्थर रखकर ये दुआ कर रहे हैं कि भले ही सचिन 90 और 100 के बीच आउट हो जाएं पर भारत वल्र्ड कप जीत जाए। सचिन जैसे महान बल्लेबाज के रहते भारत में वल्र्ड कप आना जरूरी है। वरना आने वाली पीढ़ी यही कहेंगी कि भारत में वो कैसा क्रिकेट का भगवान था जो अपने रहते वर्ल्ड कप भी न दिला पाया। इसलिए 100वां शतक आगे किसी वनडे में पूरा कर लिया जाएगा। अभी जरूरी है वल्र्ड कप। लेकिन अगर दोनों हाथों में लड्डू मिल जाएं तो कहने ही क्या।

3 comments:

  1. क्या पता बिल्ली के भाग्य से छिंका टूट जावे और दोनों हाथों ें लड्डू आ जावे ।

    ReplyDelete
  2. शुभागमन...!
    कामना है कि आप ब्लागलेखन के इस क्षेत्र में अधिकतम उंचाईयां हासिल कर सकें । अपने इस प्रयास में सफलता के लिये आप हिन्दी के दूसरे ब्लाग्स भी देखें और अच्छा लगने पर उन्हें फालो भी करें । आप जितने अधिक ब्लाग्स को फालो करेंगे आपके ब्लाग्स पर भी फालोअर्स की संख्या उसी अनुपात में बढ सकेगी । प्राथमिक तौर पर मैं आपको 'नजरिया' ब्लाग की लिंक नीचे दे रहा हूँ, किसी भी नये हिन्दीभाषी ब्लागर्स के लिये इस ब्लाग पर आपको जितनी अधिक व प्रमाणिक जानकारी इसके अब तक के लेखों में एक ही स्थान पर मिल सकती है उतनी अन्यत्र शायद कहीं नहीं । प्रमाण के लिये आप नीचे की लिंक पर मौजूद इस ब्लाग के दि. 18-2-2011 को प्रकाशित आलेख "नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव" का माउस क्लिक द्वारा चटका लगाकर अवलोकन अवश्य करें, इसपर अपनी टिप्पणीरुपी राय भी दें और आगे भी स्वयं के ब्लाग के लिये उपयोगी अन्य जानकारियों के लिये इसे फालो भी करें । आपको निश्चय ही अच्छे परिणाम मिलेंगे । पुनः शुभकामनाओं सहित...

    नये ब्लाग लेखकों के लिये उपयोगी सुझाव.


    ये पत्नियां !

    ReplyDelete